चन्दन के तिलक से अखंड स्त्री वशीकरण – VASHIKARAN MANTRA

तिलक से अखंड स्त्री वशीकरण के टोटके

वैसे तो वशीकरण के अनेक तरीके प्रचलित है जिनमे से अखंड स्त्री वशीकरण के टोटके , कुछ सावर्जनिक रूप से है और कुछ बहुत ही गोपनीय एवम अति प्रभावशाली है. तंत्र, मंत्र तथा यंत्र के क्षेत्र में ही वशीकरण के कई अनेक अचूक और 101 प्रतिशत प्रमाणिक साधन अथवा उपाय उपलब्ध है. लेकिन हर प्रयोग में किसी न किसी विशेष विधि एवम नियम कायदों का पालन करना पड़ता है.

वशीकरण का मतलब है किसी को अपने वश मे कर लेना या किसी पर इतना हावी हो जाना कि वह आपके इशारे पर नाचने लगे । जीवन के अंदर कई प्रकार के क्षण आते हैं। जब हम किसी के पास आना चाहते हों तो वह हम से दूर रहना चाहता है और जब हम किसी से दूर रहना चाहते हों तो वह हमारे पास आने की कोशिश करता है। ‌‌‌ध्यान दें आकर्षण क्रिया करें तो आपका मुंख पूर्व की ओर होना चाहिए और विकर्षण करें तो मुख पश्चिम की ओर होना चाहिए।

दोस्तों कई बार हम लोग किसी ऐसी महिला से या लड़की से प्यार कर बैठते हैं । लेकिन वह लड़की हमको पसंद नहीं करती है। और ऐसी स्थिति के अंदर हम चाहकर भी कुछ कर नहीं पाते हैं। ‌‌‌क्योंकि लड़की की बिना अनुमती के हम उसे छु भी नहीं सकते । अखंड स्त्री वशीकरण के टोटके ऐसी स्थिति के अंदर हमे वशीकरण मंत्रों का ही सहारा लेना पड़ता है। और वैसे भी इसके अलावा हमारे पास और कोई चारा भी नहीं बचता है। ‌‌‌यदि आप किसी भाभी महिला या लड़की को पटाने की कोशिश कर रहे हैं और वह पट नहीं रही है तो आप इन अचूक उपायों की मदद ले सकते हैं। आइए जानते हैं इन अचूक उपायों के बारे में ।

चन्दन के तिलक से अखंड स्त्री वशीकरण - VASHIKARAN MANTRA

महिला या स्त्री वशीकरण ‌‌‌उपाय  1.

‌‌‌पुरूषों को पूर्णिमा के दिन नीचे दिये गए मंत्र को गोरचन कुमकुम क्ष्री खंड और कस्तूरी की स्याही व अनार की कलम से भोजपत्र पर लिखकर ।मंत्र का 108 बार जाप करके उसे अपनी दाहिनी भुजा पर बांधने से मनचाही स्त्री आपके वश मे हो जाएगी ।

‌‌‌!!कामोनागाह पंचस्हरा कंदर्पो मीन केतानाह |क्ष्री विष्णु तनयो देवह प्रसन्नो भवतु प्रभो!!

महिला या स्त्री वशीकरण ‌‌‌उपाय 2.

‌‌‌प्रथमत किसी पति को अपनी पत्नी पर संदेह नहीं करना चाहिए फिर भी यदि संदेह है तो उसका एक केस बिना पत्नी की जानकारी के घर से बाहर लेजाकर जलादें और फिर उसको दाहिने पैर से मसल दें । उस रात पत्नी से रमण ना करे । उसके बाद पत्नी सदैव आपके वश मे रहेगी ।

महिला या स्त्री वशीकरण ‌‌‌उपाय 3.

‌‌‌दिपावली या ग्रहण के समय नीचे दिये गए मंत्र को 2100 बार जप करके सबसे पहले सिद्व करलें । उसके बाद मंत्र से किसी भी मीठी वस्तु को अभिमंत्रित करने के बाद आपनी पत्नी को या अपनी प्रेमिका को खिलादें । वह आपके वश मे हो जाएगी ।

‌‌‌!!नाम नाथय नाथय मोहय मोहय आकर्षय आकर्षय दासानुदासं कुरू कुरू वंश कुरू कुरू स्वाहा !!

स्त्री वशीकरण तंत्र विज्ञान की प्राचीन पुस्तकों में वशीकरण के विविध प्रयोग  वर्णित हैं, जो सामान्य जीवन-यापन और स्त्री-पुरुष के दरम्यान संबंधें की प्रगाढ़ता को बढ़ाने में सहायक बनते हैं। जैसे- कोई अपने स्वामी को अपने वश में कैसे करे? एक पत्नी अपने पति को वश में कैसे रखे? इसी तरह से पत्नी वशीकरण, नौकर वशीकरण, कन्या वशीकरण, स्त्री वशीकरण आदि की चर्चा सदियों से चलती आ रही है।

स्त्री वशीकरण प्रयोग एक तरह से सम्मोहन है। इसके लिए की जान वाली साधनाएं मंत्र के जाप से पूरी होती हैं। मंत्र को पहले जाप कर सिद्ध किया जाता है। उसके बाद उस मंत्र से किसी को भी मोहित किया जा सकता है। वैसे मंत्र उपयोग के तरीके काफी विधि-विधान के साथ किए जाते हैं।

इसी तरह से कई बार विचलित मनःस्थिति की स्त्री को भी वशीभूत करने की आवश्यकता होती है। परपुरुष गामी हो चुकी स्त्री को सही मार्ग पर लाने के लिए वशीकरण करना सामाजिक और पारिवारक हित में होता है। इनके बारे मं विस्तार से तरीके जानने से पहले उस मंत्र को जान लेना आवश्यक है, जिनसे सम्मोहन शक्ति प्राप्त की जा सकती है।

अद्भुत मंत्र भगवते रुद्राय सर्वजगमोहनं कुरू कुरू स्वाहा से किसी मनचाही स्त्री को मोहित किया जा सकता है। या कहें कि उसे अपनी ओर सम्मोहित करने के लिए इस मंत्र का प्रयोग एक कारगर उपाय हो सकता है। इसके लिए उस स्त्री के पैरों के नीचे की मिट्टी उठाकर उसे सात बार पढ़कर उसके सिर डाल देने से वह मोहित हो जाती है। इस मंत्र को सिद्ध करने के लिए शनिवार से शुरु किये गए जाप के आयोजन को अगले शनिवार को खत्म करना होता है।

Scroll to Top