पान से स्त्री मोहनी वशीकरण – Strong Vashikaran

पान से स्त्री मोहनी वशीकरण:-

पान के पत्ते को घिस कर माथे पर तिलक लगाने से सभी लोग वशीभूत हो जाते हैं।
यदि सूर्य ग्रहण के समय सहदेवी की जड़ और सफेद चंदन को घिस कर व्यक्ति तिलक करे तो देखने वाली स्त्री वशीभूत हो जाएगी।राई और प्रियंगु को ‘ह्रीं’ मंत्र द्वारा अभिमंत्रित करके किसी स्त्री के ऊपर डाल दें तो वह वश में हो जाएगी।शनिवार के दिन सुंदर आकृति वाली एक पुतली बनाकर पान के पत्ते पर इच्छित स्त्री का नाम लिखकर उसी को दिखाएं जिसका नाम लिखा है। फिर उस पत्ते को छाती से लगाकर रखें। इससे स्त्री वशीभूत हो जाएगी।

  • बिजौरे की जड़ और धतूरे के बीज को प्याज के साथ पीसकर जिसे सुंघाया जाए वह वशीभूत हो जाएगा।
  • नागकेसर को खरल में कूट छान कर शुद्ध घी में मिलाकर यह लेप माथे पर लगाने से वशीकरण की शक्ति उत्पन्न हो जाती है।
  • नागकेसर, चमेली के फूल, कूट, तगर, कुंकुंम और देशी घी का मिश्रण बनाकर किसी प्याली में रख दें। लगातार कुछ दिनों तक नियमित रूप से इसका तिलक लगाते रहने से वशीकरण की शक्ति उत्पन्न हो जाती है।

स्त्री मोहिनी वशीकरण मंत्र

ॐ नमो आदेश गुरु का सिद्ध माला स्तम्भनी मोहिनी वशीकरणी 
           आमुक मोहिनी ममवशय करि करि ईच्छित कार्य पूर्ति कुरु स्वाहा: ॥ 

पान से स्त्री मोहनी वशीकरण - Strong Vashikaran

स्त्री मोहिनी वशीकरण के उपाय:-

  1. आप मोहिनी वशीकरण मंत्र से किसी को भी अपने वश में कर सकते हैं| मोहनी वशिकरण मंत्र से सभी तरह की सुख-सुविधाओं जैसे प्रेम-संबंध, सुखद संबंध और भौतिक सुखों की कामनाओं की पूर्ति तंत्र-मंत्र-यंत्र के अंतर्गत संभव है। व्यक्ति जीवन में सतत प्रेम के प्रवाह को इस मंत्र के जाप और साधना से प्राप्त कर सकता है।
  2. मोहिनी वशीकरण मंत्र से पापों का खात्मा भी संभव है। प्रेमियों के लिए तो मोहिनी वशीकरण मंत्र अचूक साबित होता ही है। मोहिनी वशीकरण मंत्र के प्रभाव से उनका मनचाहा प्रेम अवश्य हासिल होता है। इस बारे में विभिन्न उपायों की चर्चा से पहले यह जान लेना आवश्यक है कि आखिर मोहिनी है कौन, जिनका आवाह्न और स्मरण मंत्र के जाप मात्र से किया जाता है।
  3. मोहिनी वशीकरण मंत्र पौराणिक ग्रंथों के अनुसार मोहिनी महाशक्ति योगमाया से प्रकट हुई एक अप्रतिम सुंदरता लिए अद्भुत शक्ति की देवी है।
    इनके प्रकट होने के पीछे की एक कथा भगवन विष्णु और समुद्र के मंथन की घटना से संबंधित है।
  4. मोहिनी वशीकरण सिद्धि मंत्र के जाप के दौरान पे्रमी युगल को कुछ सतर्कता भी बरतने और दूसरे साधारण उपाय करने की भी जरूरत है। वे उपाय हैं। प्रेमियों को चाहिए कि वे कभी भी शनिवार और अमावस्या के दिन एक-दूसरे के आमने-सामने नहीं हों। ऐसा कर प्रेमी आपसी बाद-विवाद या बुरे प्रभाव से अपने प्रेम को बचा लेंगे। कारण इन दिनों में मिलने वे बेवजह का विवाद उत्पन्न हो सकता है।
  5. इसी तरह से प्रेमियों को यह कोशिश करनी चाहिए कि उनकी मुलकात शुक्रवार और पूर्णिमा के दिन अवश्य हो। यदि पूर्णिमा को शुक्रवार हो तो यह दिन प्रेमियों के मिलन के लिए अत्यंत ही शुभ होता है। इस दिन उनके मिलने से परस्पर आकर्षण बढ़ूता है और प्रेम की मधुरता प्रगाढ़ होती है।
Scroll to Top